Ab bina sim card k mobile chalega

नमस्कार दोस्तों मेरे ब्लॉग computer ki jankari पर आपका स्वागत है.स्मार्टफोन यूजर्स के लिए बहुत अच्छी खबर है Telecom department के द्वारा जारी New guidelines के अनुसार अब सारी Telecom companies नार्मल sim card के बजाये e-sim की सुविधाएं देंगी.दूरसंचार विभाग में जो नई गाइडलाइंस Telecom companies को जारी किया है इसके अनुसार अब मोबाइल यूजर किसी भी Service provider telecom company से जब new sim card लेगा तो उसको e-sim- Embedded Subscriber Identity Module दिया जाएगा.

sim card

क्या है embedded sim card

अभी तक आप ने देखा होगा की किसी मोबाइल में micro sim card लगता है तो किसी में nano sim card लगता है.आने वाले वक़्त में मोबाइल बिना सिम कार्ड के चलेगा.e-sim का पूरा मतलब होता है Embedded Subscriber Identity Module यह तकनीक सॉफ्टवेयर के द्वारा काम करता है अभी तक इस तकनीक का इस्तेमाल स्मार्ट वॉच में किया जाता है लेकिन अब इस तकनीक का इस्तेमाल स्मार्टफोन में भी किया जाएगा.दूरसंचार विभाग में कंपनियों को यह भी कहा है की इ-सिम में भी ग्राहकों को number portability की सुविधा देनी होगी इसके अलावा इ-सिम का डाटा सेंटर भारत में ही होना चाहिए.

इस नई तकनीक से मोबाइल यूजर्स को अब अपने मोबाइल में अलग-अलग कंपनियों का sim card इस्तेमाल करने के लिए अलग अलग सिम कार्ड खरीदने की जरूरत नहीं है.एक mobile user अधिकतम 18 e-sim का इस्तेमाल कर सकता है यानी कि अगर आप इस इ-सिम का इस्तेमाल करना चाहते हैं तो आपको अधिक से अधिक 18 इशू होंगे.

embedded sim card से ग्राहक को क्या लाभ होगा

e-sim तकनीक से स्मार्ट फोन की बैटरी लाइफ बढ़ जाएगी क्योंकि यह इ-सिम सॉफ्टवेयर के द्वारा काम करता है इसलिए यह कम पावर का इस्तेमाल करता है.जबकि फिजिकल sim अधिक पावर का इस्तेमाल करते हैं. अभी जो mobile sim card आप इस्तेमाल करते हैं उसमें number portability के लिए 7 दिन का इंतजार करना पड़ता है जबकि इ-सिम में number portability के लिए आपको 7 दिन का इंतजार नहीं करना होगा बल्कि आप तुरंत अपने ऑपरेटर को बदल सकते हैं.इस नए तकनीक के आने के कारण अब भविष्य के स्मार्टफोन में सिम कार्ड स्लॉट या sim module की भी जरूरत नहीं होगी.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *